What Is The Full Form Of Upsc In Hindi?

UPSC परीक्षा का अर्थ क्या है?

america (Union Public carrier fee) द्वारा केंद्र सरकार की प्रथम श्रेणी की सेवाओं के लिये परीक्षाओ का आयोजन किया जाता है। भारतीय प्रशासनिक सेवा के लिये परीक्षा आयोजित करने का दायित्व संघ लोक सेवा आयोग को सौंपा गया है।

यूपीएससी में कितने एग्जाम होते हैं?

u.s. सिविल सेवा परीक्षा में three चरण होते हैं – (1) प्रारंभिक परीक्षा (वस्तुनिष्ठ परीक्षा) (2) मुख्य परीक्षा (लिखित परीक्षा) (three) व्यक्तित्व परीक्षण (साक्षात्कार)। प्रीलिम्स – सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा में 200 अंकों के दो अनिवार्य पेपर होते हैं (सामान्य अध्ययन पेपर- I और सामान्य अध्ययन पेपर- II)।

यूपीएससी में क्या क्या आते हैं?

IPOS- भारतीय डाक सेवा IRAS- भारतीय रेलवे लेखा सेवा IRPS- भारतीय रेलेवे कार्मिक सेवा IRTS- भारतीय रेल यातायात सेवा IRS- भारतीय राजस्व सेवा ITS- भारतीय व्यापार सेवा RPF- रेलवे सुरक्षा बल

यूपीएससी में कितने इंटरव्यू होते हैं?

8-9 अलग यूपीएससी साक्षात्कार बोर्ड हैं। प्रत्येक बोर्ड में एक अध्यक्ष और चार सदस्य होते हैं। प्रत्येक बोर्ड का अध्यक्ष यूपीएससी सदस्य होता है।

IPS कितने साल का कोर्स है?

united states of america परीक्षा पास करने के अलावा स्‍टेट % एग्‍जाम पास करके भी IPS ऑफिसर बना जा सकता है। स्‍टेट लेवल का एग्‍जाम पास करने के बाद SP बनने में आठ से 10 साल का समय लगता है। ट्रेनिंग: चयनित उम्‍मीदवारों को एक साल की ट्रेनिंग के लिए पहले मसूरी और फिर हैदराबाद भेजा जाता है।

See also  Did Any Unacademy Educator Clear Upsc?

UPSC पास करने के बाद कौन सी नौकरी मिलती है?

united states पास करने के बाद यहां भी मिलती है नौकरी बता दें कि सर्विसेज में दो कैटेगरी होती है, जिसमें ऑल इंडिया सर्विसेज और सेंट्रल सर्विसेज शामिल है. ऑल इंडिया सर्विसेज में तो आईएएस, आईपीएस आदि पद आते हैं. वहीं सेंट्रल सर्विस में इंडियन फॉरेन सर्विस यानी आईएफएस, आईआईएस, आईआरपीएस, आईसीएसी आदि पद आते हैं.

UPSC में इंग्लिश जरूरी है क्या?

क्या आईएएस बनने के लिए अंग्रेजी आना है जरूरी? यूपीएससी एग्जाम (united states exam) क्‍वालिफाई करने के लिए बहुत अच्छी अंग्रेजी की जरूरत नहीं होती है. इसके लिए अंग्रेजी का इतना ही ज्ञान पर्याप्त होता है कि अंगेजी जानने वाला कोई व्यक्ति यदि किसी आम विषय पर कुछ कहे, तो उसे समझ जाएं.

upsc परीक्षा कौन दे सकता है

यूपीएससी परीक्षा पात्रता 2022 – शैक्षिक योग्यता उम्मीदवार के पास सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री होनी चाहिए । अपने अंतिम वर्ष या परिणाम की प्रतीक्षा में, उम्मीदवार यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा के लिए भी पात्र हैं।

यूपीएससी में कितने परसेंट चाहिए?

यूपीएससी परीक्षा में शामिल होने की सोच रहे हैं तो आपको बता दें कि ग्रेजुएशन के बाद आप इसकी प्रीलिम्स परीक्षा दे सकते हैं. इसमें दो दो घंटे के दो पेपर होते हैं. पहले पेपर के नंबर्स के आधार पर कटऑफ बनती है, दूसरा पेपर सीसैट क्वालीफाइंग पेपर होता है. इसमें पास होने के लिए 33 फीसदी मिन‍िमम अंक चाहिए होते हैं.

इंटरव्यू कितने नंबर का होता है?

इसके अंक लिखित परीक्षा में नहीं जोड़े जाते हैं. मेरिट लिखित परीक्षा व इंटरव्यू में मिले अंकों के आधार पर बनायी जाती है. 1750 अंक लिखित परीक्षा और 275 अंक इंटरव्यू के लिए मिलते हैं.